मत

विश्लेषण

टाइम्स नाऊ पॉल: 2019 में फिर बनेगी मोदी सरकार

बीजेपी मोदी
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मोदी सरकार अपने कार्यकाल के चार साल पूरे करने वाली है ऐसे में टाइम्स नाउ द्वारा एक सर्वे किया गया है जिसमें जनता ने मोदी में अपने विश्वास की पुष्टि की है। वास्तव में ऐसा लगता है कि पिछले चार सालों में मोदी और बीजेपी की लोकप्रियता बढ़ी है। इस सर्वे में बताया गया है कि बीजेपी 2014 की तुलना में 2019 में ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करेगी।

ये सर्वे मोदी सरकार के प्रति आम लोगों के मूड को भांपने के लिए क्रोम डेटा एनालिटिक्स एंड मीडिया ने किया है। 9 मई से 22 मई के बीच हुए इस ओपिनियन सर्वे में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के कुल 13,575 लोगों की राय को शामिल किया गया था।

सर्वे के मुताबिक बीजेपी 2019 के आम चुनावों में 318 जीतने जा रही है और ये 2014 में हुए चुनावों में बीजेपी को मिली 282 सीटों से ज्यादा है। सर्वे में मोदी सरकार के चार सालों को लेकर आठ सवाल पूछे गये थे जिसपर लोगों ने अपनी राय दी है। इन सवालों के जवाब से पता चलता है कि आम जनता मोदी के कामकाज से संतुष्ट है। ये सिर्फ अल्पसंख्यक हैं जो मोदी के कार्य से खुश नहीं लगते हैं।

2019 में देश किसे पीएम के तौर पर देखना चाहता है? इस सवाल के जवाब में 51 फीसदी लोग पीएम मोदी प्रधानमंत्री के रूप में उनकी पहली पसंद थे। जबकि 23 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वो राहुल गांधी को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं, , 7 प्रतिशत लोग ममता बनर्जी को, 6 फीसदी लोग अखिलेश यादव को, 5 प्रतिशत लोग मायावती को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं। वहीं, 55 प्रतिशत लोग एनडीए को दूसरा मौका देना चाहते हैं।

पीएम मोदी पर विश्वास को लेकर पूछे गये सवाल पर 30 फीसदी लोगों ने माना कि सुधार हुआ है। जबकि 32 फीसदी लोगों का मानना है कि कोई बदलाव नहीं हुआ है और सिर्फ 23 फीसदी लोगों का मानना है कि पहले की अपेक्षा सुधार और खराब हुआ है। ऐसे ही लोगों से जॉब और आर्थिक सुरक्षा को लेकर जब सवाल पूछा गया तब 31 फीसदी लोगों ने कहा कि जैसा माहौल पांच साल पहले था वैसा ही अभी है। 37 प्रतिशत लोगों का मानना था कि सुधार हुआ है, जबकि 32 फीसदी लोगों ने कहा कि वह पहले की अपेक्षा खराब हुआ है। एक और सवाल जिसमें पिछले चार वर्षों में उनकी जीवन में आये बदलाव को लेकर जब सवाल किया गया तो इसके जवाब में 19 फीसद लोगों ने कहा कि बहुत बदलाव आया। जबकि 28 फीसद लोगों का मानना है कि कुछ हद तक बदलाव आया। इसीलिए कुल 47 प्रतिशत लोगों का मानना है कि पीएम मोदी के सरकार के तहत उनके जीवन में सुधार हुआ है। वहीं, 23 फीसद ने कहा कि किसी तरह का बदलाव नहीं आया, सिर्फ 25 फीसदी लोगों ने कहा कि मोदी सरकार के अंतर्गत हालात बदतर हुए हैं।

आखिरी सवाल मोदी सरकार की रेटिंग को लेकर था। इस सवाल के जवाब में 23 फीसद लोगों ने माना कि मोदी सरकार ने सर्वोत्तम प्रदर्शन किया है, 26 फीसद लोगों अच्छा, 27 फीसदी ने औसत तो 24 फीसदी ने खराब कहा।

ये सर्वे 2019 के आम चुनावों से पहले आया है। ये सर्वे बताता है कि जहां तक मोदी सरकार का सवाल है अधिकतर जनता पीएम मोदी के कार्य से संतुष्ट है। बड़े पैमाने पर लोग मोदी सरकार के कामकाज से प्रभावित हैं और वो मानते हैं कि मोदी सरकार को एक बार फिर से मौका दिया जाना चाहिए। पिछले चार सालों में मोदी सरकार की लोकप्रियता बढ़ी है और ये बात जनता की राय से स्पष्ट है। एक स्पष्ट बहुमत चाहता है कि मोदी सत्ता में बने रहें और कोई अन्य नेता मोदी के समान सक्षम नहीं हैं। अगर कुल मिलाकर हम देखें तो पिछले चार सालों में प्रधामंत्री मोदी और बीजेपी ने अपने कामकाज से जनता का भरोसा जीता है। ऐसे में बीजेपी अब न सिर्फ सत्ता में बनी रहेगी बल्कि 2019 के चुनावों में बड़ी पार्टी बनकर एक बार फिर से उभरेगी।

Comments

Patriot, Political Analyst, Amateur Historian
  • facebook
  • twitter

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

अर्थव्यवस्था

इतिहास

संस्कृति