मत

विश्लेषण

आर्थिक सुधारों के लिए यूरेशिया समूह के अध्यक्ष ने की पीएम मोदी की तारीफ

पीएम मोदी यूरेशिया इयान ब्रेमर

विदेशी मीडिया ने एक बार नहीं बल्कि कई बार पीएम मोदी की तारीफ की है। कई संगठनों के विभिन्न प्रमुखों ने पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत में सुधार नीतियों का समय-समय पर समर्थन किया है। नोटबंदी, जीएसटी जैसे सफल आर्थिक फैसला और मेक इन इंडिया जैसी नीतियों को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष, विश्व बैंक और अन्य प्रमुख संगठनों ने कई बार सराहा है। बदलाव के लिए इन सभी सुधार नीतियों को भारतीय जनता ने भी काफी सराहा और इस फैसले का स्वागत भी किया। विपक्ष और लेफ्ट समर्थक मीडिया ही ऐसे हैं जिन्होंने सुधार के लिए पीएम मोदी की नीतियों का विरोध किया। काफी अच्छा लगता है जब भारत के प्रधानमंत्री का स्वागत पूरे सम्मान के साथ किया जाता है, है न ? ये और भी अच्छा लगता है जो विदेशी कंपनियां भारत में कड़े नियमों और नौकरशाहों की वजह से अपना व्यापार स्थापित करने में शर्म महसूस करती थीं वो आज भारत में व्यवसाय स्थापित करने के लिए तैयार हैं। ऐप्पल और बोइंग दो प्रमुख कंपनियां हैं जिन्होंने भारत में अपने व्यापार के विस्तार करने के इच्छा जाहिर की है। स्मार्टफोन से कार्गो विमान तक, भारत में कुछ भी बनाया जा सकता है। अमेरिकी राजनीतिक वैज्ञानिक और यूरेशिया समूह के अध्यक्ष इयान ब्रेमर पोलिटिकल रिस्क रिसर्च एंड कंसल्टेंसी में माहिर हैं। यूरेशिया समूह का ऑफिस 5 से अधिक देशों में है, इसके साथ ही इसे पोलिटिकल रिस्क में 20 से अधिक वर्षों का अनुभव भी है। यही वजह है कि इयान ब्रेमर ने अर्थशास्त्र के क्षेत्र में सीमा से बाहर भी अपना अधिकार स्थापित किया है।

सोशल मीडिया पर तेजी से फैल रही एक वीडियो में यूरेशिया समूह के अध्यक्ष को पीएम मोदी और उनकी नीतियों की तारीफ करते हुए देखा गया। उन्होंने पीएम मोदी को साफ और सक्षम नेता कहा है जो वास्तव में भ्रष्ट नहीं है।

इयान ब्रेमर के अनुसार पीएम मोदी जनता के बीच बेहद लोकप्रिय हैं और ये उनके बेदाग चरित्र के साथ जुड़कर उन्हें कठिन फैसले लेने के लिए सक्षम बनाता है। पीएम मोदी की नीतियों की वजह से ही आज ब्रेमर ने भारत को दुनिया में अवसर का सबसे बड़ा केंद्र बताया है। ये भारत के लिए बहुत बड़ी बात है क्योंकि चीन और दुनिया के अन्य विकसित अर्थव्यवस्थाओं के साथ भारत की प्रतिस्पर्धा रही है। इयान ब्रेमर ने आगे कहा कि पीएम मोदी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया, जहां वो खुद भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं होते और न ही दूसरों को होने देते हैं, और यही वो बदलाव है जिसने यूरोपीय और अमेरिकी कंपनियों को भारत की ओर आकर्षित किया है।   उन्होंने पीएम मोदी के दृष्टिकोण की तारीफ की जिसने भारतीय जनता को धन और संसाधनों की सुविधा दी जिससे भारत अपने आप को स्थायी रूप विकसित कर सके। पीएम मोदी में जनता का भरोसा बहाल हुआ है और भारत को विकास की दिशा में आगे बढ़ाने की उनकी कोशिशें सफल हुई हैं। यही वजह है कि पीएम मोदी ने कई कठिनाइयों के बावजूद जीएसटी लागु किया, नोटबंदी जैसे बड़े फैसले लिए जिसने नौकरशाहों की भ्रष्ट जड़ों को काटा है। इयान ब्रेमर के अनुसार, भारत में विकास की गति को बढ़ाने के लिए ये आवश्यक था। उन्होंने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में पीएम मोदी के कार्यकाल की सराहना करते हुए ये दावा किया कि गुजरात में उनके शासन के दौरान अगर कोई वहां का दौरा करता तो उसे जरुर ही गुजरात में व्यपार के लिए अवसर स्पष्ट रूप से नजर आते।

यहां वीडियो देखें:

ये पहली बार नहीं है जब इयान ब्रेमर और दुनिया भर के संगठनों के अन्य प्रमुखों ने पीएम मोदी की तारीफ की है। 29 नवंबर, 2017 को हिंदुस्तान टाइम्स में प्रकाशित एक लेख में, इयान ब्रेमर ने पीएम मोदी और उनकी “महत्वाकांक्षी” विदेश नीति की सराहना की थी। उन्होंने पीएम मोदी के सभी राजनयिक वार्ता में भारत के राष्ट्रीय हितों के लिए किये जा रहे प्रयासों की सराहना की थी। जिस तरह से भारत ने भूमि और संसाधनों के लिए चीन के लालच पर नकेल कसा उसके बाद से भारत के पड़ोसी देश भारत की ओर आशाभरी नजरों से देख रहे हैं। हम भाग्यशाली हैं कि हमारे पास एक ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो भारत को विकास की दिशा में तेजी से ले जाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। इयान ब्रेमर और भारत के बाहरी लोगों ने ये महसूस किया कि 2014 में भारतीय जनता ने क्यों पीएम मोदी को चुना था, दरअसल, भारत की जनता को तब जिस तरह के शीर्ष प्रधानमंत्री की जरूरत थी उन्हें वो बता पीएम मोदी में नजर आई।

Comments

Mahima Pandey

Nationalist/ Embrace Progressive view/ Only support truth and justice...
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • youtube
  • instagram

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

अर्थव्यवस्था

इतिहास

संस्कृति