मत

विश्लेषण

श्रेणी: अर्थव्यवस्था

पिछले चार सालों में मोदी सरकार ने काले धन पर कितना कसा शिकंजा

मोदी सरकार काले धन पर शिकंजा कसने और देश में गरीब और कमजोर आबादी को लाभ पहुंचाने के लिए हर मुमकिन प्रयास कर रही है। जबसे मोदी जी सत्ता में आये हैं तबसे उन्होंने भ्रष्टाचार और काले धन पर नकेल कसने की मुहिम शुरू कर दी। देश में कर चोरी, गलत तरीके से धनराशि अर्जित […]

जीएसटी परिषद की बैठक के बाद माध्यम वर्ग के लिए खुशखबरी

सरकार ने कई बार कहा है कि वर्त्तमान जीएसटी दरों में बदलाव होंगे। ये सिर्फ एक अप्रत्यक्ष कर की प्रक्रिया की शुरुआत है। अपने वादे के मुताबिक जीएसटी परिषद ने व्यवसायों और लोगों की प्रतिक्रिया के अनुसार जीएसटी में बदलाव किए हैं। एक बड़े कदम के तहत, जीएसटी परिषद ने हाल ही में बड़े पैमाने […]

अरुण जेटली ने राजकोषीय घाटे को कैसे कम किया

अरुण जेटली भारत के सबसे सफल वित्त मंत्री में से एक हैं। उन्होंने भारतीय लोगों के आर्थिक व्यवहार के साथ आर्थिक सिद्धांत को जोड़कर नई नीतियां बनाई और कार्यान्वयन भी किया। वित्त मंत्री के रूप में उनका कार्यकाल देश के सार्वजनिक वित्त में सबसे सफल रहा है। वो जीएसटी एक अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था को लागू […]

बेनामी संपत्ति के खिलाफ बड़ा कदम, जानकारी देने पर 1 करोड़ तक का इनाम देगी सरकार

मोदी सरकार ने लगभग डेढ़ साल पहले काले धन पर शिकंजा कसने के लिए शानदार निर्णय लिया था। कर आधार बढ़ाने, डिजिटल लेनदेन में भारी बढ़ोतरी और नकद जमा करने खिलाफ नागरिकों में डर पैदा करने जैसे कई तरीकों से नोटबंदी कई मायनों में सफल साबित हुआ है। आर्थिक सर्वेक्षण 2018 के अनुसार, 10.1 मिलियन […]

नितिन गडकरी ने एक्सप्रेस-वे बनाने का मोदी सपना रिकॉर्ड 500 दिन में किया पूरा

मोदी सरकार जिस तरह से एक के बाद एक चुनाव जीतने में सफल रही है उसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति के अलावा मोदी सरकार के मंत्रियों द्वारा विकास करने की नीति भी है। इस विकास में उनके कैबिनेट के मंत्री जो दिन रात एक कर प्रधानमंत्री मोदी के ‘न्यू इंडिया’ के […]

मलेशिया में सिंगल रेट जीएसटी हो गयी फेल, और श्रेष्ठ साबित भारत का स्लैब-बेस्ड जीएसटी स्ट्रक्चर

मलेशिया में महातिर बिन मोहम्मद ने नई सरकार बनाने के बाद घोषणा की है कि वो जीएसटी की दर 6 प्रतिशत घटाएंगे। मलेशिया में जीएसटी 2015 में लागू किया गया था। सरकार ने उसी दर पर लक्जरी कारों और नियमित घरेलू सामानों पर कर लगाया था। जीएसटी से नाराज लोगों ने नजीब सरकार के खिलाफ […]

‘खाने के ओवरचार्जिंग’ पर रेलवे प्रशासन ने की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई

ट्रेन में अगर सफ़र लंबा है तो अपने खाने की व्यवस्था को लेकर हो रही चिंता तो अब आप भूल जाइये क्योंकि अब रेल मंत्री पियूष गोयल ने भारतीय रेल में बिकने वाले भोजन की गुणवत्ता को सुधारने के लिए कमर कस ली है। दरअसल, लगातार ट्रेनों में बिकने वाले खाने के दामों से संबंधित […]

बड़ी खबर: भारत की जीडीपी को लेकर संयुक्त राष्ट्र की भविष्यवाणी

“2018 में भारत की अर्थव्यवस्था में 7.2 प्रतिशत की वृद्धि होने की संभावना जताई जा रही है और अगले साल यह दर मजबूत निजी खपत, सार्वजनिक निवेश और वर्तमान समय में हो रहे ढांचागत सुधारों के दम पर आगे बढ़कर 7.4 प्रतिशत तक पहुंच जाएगी। “इससे पहले कि सभी मोदी विरोधी लोग मुझे ऐसा कहने […]

नोटबंदी का पहला धमाकेदार असर: मोदी सरकार ने टैक्स चोरो के लिए बुरे नए साल का प्रबंध किया है

नोटबंदी (विमुद्रीकरण) की घोषणा के बाद के दिनों को याद करें, जब विपक्ष और उदारवादी मीडिया ने अपनी आवाज को बुलंद करके इसका विरोध किया था कि यह सरकार की एक बहुत बड़ी असफलता है, सिर्फ इसलिए क्यूंकि 99 प्रतिशत पैसा बैंकों में वापस आ गया था? सरकार ने इस बारे में कई बातें कहीं […]

मोदी सरकार की नयी औद्योगिक नीति

२०१४ के ऐतिहासिक चुनाव अभियान के दौरान नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में जोर देते हुए कहा था कि, “मेरा मानना है कि सरकार को व्यापार नहीं करना चाहिए और उनका ध्यान ‘मिनिमम गवर्मेंट एंड मैक्सिमम गवर्नेंस’ पर होना चाहिए”। जिसमें उन्होंने संकेत दिया कि वे अर्थव्यवस्था को राज्य नियंत्रण के बंधन से और अधिक […]

क्या गडकरी बन सकते हैं वह भगीरथ जिसकी प्रतीक्षा गंगा कर रही है?

गंगा नदी को सनातन धर्म में बड़ा ही महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है। अति प्राचीन समय से गंगा नदी ने न केवल अपने जल से बल्कि अपने क्षेत्र में फसलों द्वारा लाखों भारतीयों का पालन पोषण किया है।  गंगा नदी को देवी माँ के रूप में सम्मान दिया गया है। जो हमें जीवन प्रदान करती हैं, […]

भारत ने लगायी वैश्विक समृद्धि सूचकांक 2017 में चार पायदानों की छलांग

एक छोटे से विराम के बाद, भारत आर्थिक विकास के मोर्चे पर कुछ प्रभावशाली आँकड़े दर्ज कर रहा है। कांग्रेस के कुशासन के एक दशक बाद नागरिक आश्वस्त हैं कि देश की अर्थव्यवस्था अब सही रास्ते पर आ गई है। कांग्रेस को जब सत्ता मिली, तब ये 8+ जीडीपी की विकासशील अर्थव्यवस्था थी जिसे उन्होंने […]
Page 1 of 3123 »

अर्थव्यवस्था

इतिहास

संस्कृति